खुशखबरी! इस मानसून खिलेंगे किसानों के चेहरे, बनी रहेगी इंद्र देव की कृपा

नई दिल्लीः एक बार फिर से देश के किसानों को मौसम विभाग की तरफ से खुशखबरी मिली है। विभाग ने देश में लगातार तीसरे साल मानसून सामान्य रहने का अनुमान जारी किया है। विभाग के मुताबिक, इस साल जून से सितंबर के दौरान 97% बारिश की संभावना बनी हुई है।

 

वहीं, कम बारिश की आशंका बेहद कम लगाई गई है। वहीं, 15 मई तक मानसून के केरल पहुंचने का अनुमान भी लगाया गया है। इसके बाद दूसरे चरण के मानसून के पूर्वानुमान जून में जारी करेंगे। इसमें देश के सभी हिस्सों में बारिश के मासिक पूर्वानुमान (जुलाई-अगस्त) और चारों भौगोलिक क्षेत्रों में जून से सितंबर तक के पूर्वानुमान दिए जाएंगे।

 

मौसम विभाग की ओर से की गई इस भविष्यवाणी में लॉन्ग पीरियड एवरेज (एलपीए) में 5 फीसद की प्लस-माइनस की त्रुटि भी शामिल है। 96 से 104 फीसद का आंकड़ा सामान्य मानसून माना जाता है। इससे पहले 4 अप्रैल को एक निजी वेदर फॉरकास्ट एजेंसी स्काई मेट ने भी सामान्य मानसून की बात कही थी और इसके अनुमान को 100 फीसद तक बताया था। इसमें भी पांच फीसद की प्लस-माइनस की त्रुटि शामिल थी।

 

बता दें कि, साल 2017 में, उत्तर पश्चिमी भारत में औसत मौसमी वर्षा 95%, मध्य भारत में 106 फीसद, दक्षिण प्रायद्वीप में 92 फीसद और उत्तरपूर्व भारत में 89 फीसद बारिश हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *