क्यों जोड़ना जरूरी है मोबाइल नंबर से आधार? आज SC करेगा फैसला

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने आधार कार्ड को मोबाइल नंबर से लिंक कराने को लेकर कई तरह के सवाल किए है। बता दें कि, आज आधार पहचान प्रणाली की संवैधानिक वैधता को चुनौती देने वाले कई याचिकाकर्ताओं के दायर अपील पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई भी करने वाला है।

 

इससे पहले बुधवार को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआइ) ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि, आधार को बैंक खाते से जोड़ना अनिवार्य है।

 

इस बारे में पीएमएलए कानून में प्रावधान है और रेगुलेटर होने के नाते आरबीआइ पर इस बाबत सर्कुलर जारी करने का कानूनी दायित्व है। उधर, सुप्रीम कोर्ट ने आधार को मोबाइल नंबर से जोड़ने की अनिवार्यता पर सवाल उठाया।

 

कोर्ट ने कोर्ट ने आधार के पक्ष में बहस कर रहे यूआइडीएआइ के वकील राकेश द्विवेदी से कहा कि लोकनीति फाउंडेशन की जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सिर्फ ये कहा था कि राष्ट्रीय सुरक्षा के पहलू को ध्यान में रखते हुए मोबाइल प्रयोगकर्ताओं का सत्यापन होना जरूरी है। कोर्ट इससे पहले फटकार लगाते हुए भी कह चुका है कि, यूजर्स के अनिवार्य सत्यापन को लेकर कोर्ट के आदेश को ‘टूल’ के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है।