बेघर होंगे राजनीति के ये 6 पूर्व मुख्यमंत्री! अगले 15 दिनों में सरकारी बंगला खाली करने नोटिस

लखनऊ: अपना सरकारी बंगला बचाने के लिए एक तरफ सपा के वरिष्ठ नेता और संस्थापक मुलायम सिंह यादव गुरुवार को प्रदेश के सीएम योगी से मिले थे वहीं, आज एक बार फिर से इस सरकारी बंगलों को खाली करने का नोटिस जारी किया गया है। ये नोटिस राज्य संपत्ति विभाग ने सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का पालन करते हुए जारी किया है।

 

इस नोटिस में कहा गया है कि, सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को 15 दिनों में अपना सरकारी बंगला खाली करना होगा। राज्य संपत्ति विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, “नोटिस जारी किए जा रहे हैं। कल सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को ये पहुंच जाएंगे।”

 

बता दें कि, इस समय 6 पूर्व मुख्यमंत्रियों नारायण दत्त तिवारी, मुलायम सिंह यादव, कल्याण सिंह, मायावती, राजनाथ सिंह और अखिलेश यादव के पास सरकारी बंगले हैं जो वीवीआईपी जोन में पड़ते हैं। इससे पहले 7 मई को सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि उत्तर प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्रियों को अब सरकारी बंगले खाली करने होंगे।

 

उल्लेखनीय है कि अखिलेश सरकार ने पद से रिटायर होने या पद छोडऩे के बाद भी ताउम्र बंगले की सुविधा बनी रहने का कानून बनाया था। जिसके तहत नारायण दत्त तिवारी, कल्याण सिंह, राजनाथ सिंह, मुलायम सिंह यादव, मायावती और अखिलेश यादव को इन्हें इन बंगलों में जीवनभर रहने का अधिकार मिला हुआ था।

 

नोटिस देने के पहले मुख्यमंत्री योगी और प्रमुख सचिव राज्य सम्पत्ति एसपी गोयल का भी अनुमोदन लिया गया है। राज्य सम्पत्ति अधिकारी योगेश कुमार शुक्ला ने बताया कि यह नोटिस सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के अनुपालन में भेजा गया है।

 

बता दें कि, कल्याण सिंह इस समय राजस्थान के राज्यपाल हैं, जबकि राजनाथ सिंह केंद्रीय गृहमंत्री हैं।  पूर्व मुख्यमंत्रियों को दिए गए सरकारी बंगले काफी बड़े होते हैं और इनका रख-रखाव भी सरकारी पैसों पर ही होता है। इसके अलावा इनमें रहने के लिए इन्हें बस मामूली किराया ही अदा करना होता है।