तमिलनाडु के पूर्व CM करुणानिधि का निधन, नहीं थम रहे समर्थकों के आंसू..PM मोदी ने जताया शोक

New Delhi: डीएमके के चीफ और तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि का निधन हो गया है। पिछले 10 दिनों से चेन्नई के कावेरी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। उनके शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक जताते हुए परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

अस्पताल की तरफ से जब उनकी नाजुक हालात का बयान जारी किया गया था, तभी उनके समर्थकों की भीड़ अस्पताल और घर के बाहर जमा हो गई थी। कावेरी अस्पताल की तरफ से बयान जारी करते हुए कहा गया कि, तमाम कोशिशों के बावजूद हम उन्हें नहीं बचा पाए। करुणानिधि ने मंगलवार की शाम 6 बजकर 10 मिनट पर अपनी आखिरी सांस ली।

डीएमके चीफ करुणानिधि के निधन पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी शोक जताया है। करुणानिधी 94 साल के थे। उन्हें 28 जुलाई को चेन्नई के कावेरी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉक्टर अरविन्दन सेल्वाराज ने उनके निधन की खबर जारी करते हुए कहा कि, ‘हमें बड़े दुख के साथ बताना पड़ रहा है कि हमारे प्रिय कलैंग्नर एम. करुणानिधि का 7 अगस्त, 2018 को शाम छह बजकर दस मिनट पर निधन हो गया। डॉक्टरों और नर्सों की हमारी टीम के सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका।‘ भारत के कद्दावर नेताओं में से एक के निधन पर उन्होंने गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा कि, उनके परिवार के सदस्यों और दुनिया भर में बसे तमिलवासियों का दुख साझा करते हैं।

उनके निधन पर तमिलनाडु सरकार ने बुधवार की छुट्टी और पूरे राज्य में सात दिनों के लिए शोक की घोषणा की है। इस दौरान राज्य में थिएटर बंद कर दिए गए हैं। जिसकी जानकारी थिएटर ऑनर एसोसिएशन के अबिरामी रामनाथन और पन्नीरसेल्वम ने दी है। उनके शव को उनके गोपालपुरम आवास लाया गया है। जिसके बाद बुधवार सुबह राजाजी हॉल में उनके समर्थक और आम जनता उनके शव का अंतिम दर्शन कर सकेंगे।