मुस्लिम ड्राइवर देख कैंसल कर दी कैब, फिर ने OLA ने ऐसे दिया करारा जवाब

लखनऊः लखनऊ में ओला कैब को लेकर एक खबर विवाद का कारण बन रही है। खुद को विश्व हिंदू परिषद का सदस्य बताने वाले एक युवक ने काफी विवादित ट्वीट किया है। ये वाक्या 20 अप्रैल का है। विश्व हिंदू परिषद का खुद को सदस्य बताने वाले अभिषेक ने लखनऊ की बटलर कॉलोनी से पॉलिटेक्निक बस स्टैंड जाने के लिए एक ओला कैब बुक की थी।

 

लेकिन उसने उसे कैंसल कर दिया। जिसकी वजह उसने ट्वीट करके बताया। उनसे लिखा कि, उसने Ola कैब की राइड इसलिए कैंसिल कर दी, क्योंकि उस गाड़ी का ड्राइवर एक मुस्लिम था। और उसका एक स्क्रीनशॉट भी पोस्ट करते लिखा, मैं अपना पैसा जिहादी लोगों को नहीं देना चाहता।

 

युवक ने खुद के ट्वीट में ये बात बताई है कि, इसकी ओला राइड पर जो ड्राइवर आ रहा था उसका नाम मसूद असलम है, इसलिए कैब कैंसल कर दी।

 

ये मंत्री भी है फॉलोओवर
– ट्विटर पर अभिषेक मिश्रा को केंद्रीय मंत्रियों समेत यूपी के मंत्री भी फॉलो करते हैं। इनमें रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी, यूपी के कैबिनेट मंत्री स्वतंत्र देव सिंह समेत जैसे नाम है।

 

वहीं, इसकी खबर जब ओला को हुई तो इधर से भी करारा जवाब आया। ओला ने लिखा, ‘हमारे देश की तरह ओला भी सेक्युलर है और हम अपने ड्राइवर पार्टनर या कस्टमर में जाति, धर्म, लिंग के आधार पर कोई भेदभाव नहीं करना चाहते हैं। हम अपने सभी कस्टमर्स और ड्राइवर पार्टनर्स से आग्रह करते हैं कि एक दूसरे का सम्मान करें।’