मिशन 2019: राहुल गांधी की राजनीति, ‘सेव द कांस्टीट्यूशन’ से दलित वोटरों पर चलाएंगे अपना सिक्का!

नई दिल्लीः सोमवार से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ‘सेव द कांस्टीट्यूशन’ (संविधान बचाओ) नाम से एक अभियान की शुरुआत करने जा रहे हैं। जिसकी शुरूआत नई दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में सुबह 10:30 बजे होगी। यह अभियान पूरे देश में चलाया जाएगा। इसके जरिये पार्टी केंद्र में भाजपा शासनकाल के दौरान हुई संविधान विरोधी और दलित विरोधी गतिविधियों की जानकारी देगी।

 

यह अभियान अगले साल बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की जयंती 14 अप्रैल तक जारी रहेगा। ऐसा कहा जा रहा है कि, अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले दलित समुदाय के बीच अपनी पैठ बढ़ाने की कोशिश के तहत कांग्रेस यह पहल करने जा रही है। बता दें कि देश में 17% दलित वोट है।

 

इसमें कांग्रेस का ज़ोर रहेगा कि, वो ख़ासतौर पर दलितों के हकों को लेकर किस तरह से संविधान पर चोट की जा रही है, उससे उन्हें जागरूक कराएं। राहुल के साथ ही इस कार्यक्रम में पंचायत और स्थानीय निकाय और ज़िला स्तर के पार्टी पदाधिकारियों के साथ-साथ कई कार्यकर्ता भी शामिल होंगे। इसके अलावा पार्टी के महिला और युवा सेवादल की भी सक्रिय भागीदारी होगी।
बता दें कि, कांग्रेस का दावा है कि, इस रैली को देश में बढ़ते अविश्वास और अहिष्णुता के खिलाफ है। इससे पहले कांग्रेस ने 9 अप्रैल को इसी मुद्दे पर देशव्यापी उपवास का भी आयोजन किया था, जो पूरी तरह से विफल रहा था।