‘पूरे देश के लिए खतरनाक है प्रधानमंत्री का इस तरह भाषण देना’- डॉ.मनमोहन सिंह

नई दिल्लीः पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने प्रभावी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर अपनी एक बड़ी नाराजगी व्यक्त की है। दरअसल, मनमोहन सिंह समते कांग्रेस के अन्य नेताओं ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक शिकायत पत्र लिखी है। जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भाषा पर आपत्ति जताई है।

 

 

उनके इस शिकायत पत्र में कर्नाटक चुनाव प्रचार में पीएम द्वारा बोले गए भाषण जिसमें उन्होंने कहा कि, कांग्रेस के नेता कान खोलकर सुन लीजिए… अगर सीमा पार किया तो, ये मोदी है… लेने के देने पड़ जाएंगे…’ पर आपत्ति जताई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बोले गए इस वाक्‍य का उल्‍लेख करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखा और कहा है कि पीएम मोदी को धमकी भरी इस भाषा का इस्‍तेमाल करने से मना करें। प्रधानमंत्री कांग्रेस को धमकाने का काम कर रहे हैं। यह प्रधानमंत्री पद के लिए शोभा नहीं देता है। इसके लिए उन्हें सावधान करें।

 

 

गौरतलब है कि, पीएम मोदी के इसी तरह के भाषण को लेकर मनमोहन सिंह पिछले हफ्ते भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुकें हे। जिसमें उऩ्होंने नीरव मोदी के विदेश भागने और नोटबंदी के फैसले को लेकर मोदी पर निशाना साधा था। जिसमें उन्होंने पत्रकारों से कहा कि, हमारे देश के किसी भी प्रधानमंत्री ने अपने प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं किया है, जैसा मोदी दिन-रात करते रहते हैं। उनका इस तरह का बर्ताव उनके पद को निचले स्तर तक गिरा रहा है। और यह पूरे देश के लिए भी अच्छा नहीं है। यह उस देश के प्रधानमंत्री की भाषा नहीं हो सकती, जो 1.3 अरब लोगों की नुमाइंदगी करता है।

 

 

वहीं इस शिकायत पत्र पर अभी तक बीजेपी की तरफ से कोई बयानबाजी नही हुई है। गौरतलब है कि कर्नाटक चुनाव में भी बीजेपी और कांग्रेस नेताओं के बीच तल्खी चरम पर पहुंच गई थी और दोनों ही ओर से बयान दिये जा रहे थे।