CCA प्रदर्शनकारियो पर चला रेलवे का चाबुक 21 गिरफ्तार 87.99 करोड़ के नुकसान की भी होगी वसूली

थिंक मीडिया न्यूज़ (नई दिल्ली)

*नेशनल डेस्कः नागरिकता कानून CAA पारित किए जाने के बाद बीते दिनों देश के विभ‍िन्‍न हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। रेलवे ने पश्चिम बंगाल, असम और बिहार में CAA विरोधी प्रदर्शनों में रेल संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और आगजनी की घटनाओं में शामिल 21 कथित उपद्रवियों की पहचान की है।

इनको गिरफ्तार भी कर लिया गया है। RPF के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि करीब 87.99 करोड़ रुपये की संपत्ति के नुकसान की भरपाई तोड़फोड़ की घटनाओं में शामिल लोगों से की जाएगी।

उल्‍लेखनीय है कि संसद द्वारा नागरिकता कानून CAA पारित किए जाने के बाद बीते दिनों देश के विभ‍िन्‍न हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। इन प्रदर्शनों के दौरान भीड़ में शामिल लोगों और पुलिस के बीच हिंसक झड़पें भी हुई थी। बीते दिनों रेलवे ने कलकत्ता हाई कोर्ट में दाखिल अपनी रिपोर्ट में बताया था कि अकेले बंगाल में ही 13 से 15 दिसंबर के बीच हुए इन प्रदर्शनों में 84 करोड़ रुपये की रेल संपत्ति का नुकसान हुआ है।  

रिपोर्टों में कहा गया है कि नाराज प्रदर्शनकारियों ने पटरियों पर बोल्‍डर डाले और ट्रेन के डिब्‍बों को आग के हवाले किया था। अब तक जीआरपी ने 27 जबकि RPF ने 54 मामले दर्ज किए हैं। यही नहीं रेलवे संपत्ति को नुकसान पहुंचाने, आगजनी एवं हिंसा के सिलसिले में 21 को गिरफ्तार किया गया है। RPF अधिकारी ने बताया जिन 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया है उनमें से कुछ को घटनास्थल से पकड़ा गया जबकि कुछ की पहचान वीडियो फुटेज के जरिए की गई। तोड़फोड़ में शामिल लोगों की पहचान के लिए अभी भी वीडियो फुटेज की जांच पड़ताल का काम जारी है। इससे गिरफ्तार लोगों की संख्या और बढ़ने का अनुमान है। अधिकारी के मुताबिक, सर्वाधिक गिरफ्तारियां पश्चिम बंगाल से की गई हैं। संपत्ति की भरपाई के लिए गिरफ्तार किए गए लोगों को नोटिस भेजे जाएंगे।