कोरोना वायरस: केंद्र सरकार का बड़ा फैसला 31 मार्च तक बंद रहेंगी देश भर की ये सभी सुविधाएं

थिंक मीडिया न्यूज़ (संतोष तिवारी)

मंत्रालय की ओर से छात्रों को घर पर रहने की सलाह दी गई साथ ही ऑनलाइन शिक्षा को बढ़ावा​ देने पर भी जोर दिया गया. मंत्रालय ने कहा कि सामाजिक दूरी के दायरे को बढ़ाने के लिए सार्वजनिक परिवहन के तहत बसों, ट्रेन और विमानों से गैर जरूरी यात्रा से परहेज किया जाना चाहिए.

नई दिल्ली. देश भर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को प्रेस वार्ता की. इस वार्ता में स्वास्थ्य मंत्रालय ने सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदमों की जानकारी दी साथ ही देशवासियों को इस वायरस से बचने के लिए सचेत किया. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से कहा गया कि मंत्रिसमूह की बैठक के बाद सरकार ने सामाजिक तौर पर दूरी बनाए रखने के उपाय 31 मार्च तक लागू रखने का प्रस्ताव किया गया है.

सरकार की ओर से कहा गया कि 31 मार्च तक स्विमिंग पूल, मॉल, स्कूलों को बंद करने, कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति, सार्वजनिक परिवहन का कम उपयोग, लोगों के बीच 1 मीटर की दूरी बनाए रखना जैसे उपायों पर ध्यान देना चाहिए. मंत्रालय की ओर से छात्रों से घर पर रहने की सलाह दी गई साथ ही ऑनलाइन शिक्षा को बढ़ावा​ देने पर भी जोर दिया गया. मंत्रालय ने कहा कि सामाजिक दूरी के दायरे को बढ़ाने के लिए सार्वजनिक परिवहन के तहत बसों, ट्रेन और विमानों से गैर जरूरी यात्रा से परहेज किया जाना चाहिए.

अब तक भारत में 114 केस

सरकार की ओर से कहा गया कि कोरोना वायरस के चार नए मामले ओडिशा, जम्मू और कश्मीर, लद्दाख और केरल से सामने आए हैं. भारत में आज अब तक कुल 114 मामलों की पुष्टि की गई है, जिनमें 13 ठीक हो चुके हैं और दो की मौत हुई है.

इन देशों पर लगा प्रतिबंध
स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि ईरान से 53 लोगों के चौथे बैच को सोमवार को भारत लाया गया है. इन सभी को जैसलमेर की आर्मी फैसिलिटी में क्वारंटाइन किया गया है. जिन लोगों को आज वापस लाया गया है उनमें से किसी में भी फिलहाल कोरोना वायरस के प्रारंभिक लक्षण नहीं दिखे हैं और उन्हें तय प्रोटोकॉल के तहत रखा गया है.

उन्होंने बताया कि यूरोपीय संघ, तुर्की और यूनाइटेड किंगडम के यात्रियों को 18 मार्च 2020 से प्रतिबंधित कर दिया जाएगा. इस पर फिर से समीक्षा की जाएगी.