अमेठी : आगामी 05 जुलाई से 15 जुलाई तक संचालित किया जायेगा विशेष सर्विलांस अभियान

संतोष तिवारी

टीम बनाकर सर्विलांस कार्य को मानको के अनुरूप पूर्ण करने के जिलाधिकारी ने दिया

जिलाधिकारी श्री अरुण कुमार की अध्यक्षता में विकास भवन में कल देर शाम कोविड-19 के रोकथाम एवं नियत्रंण के लिए 05 जुलाई से 15 जुलाई, 2020 तक विशेष सर्विलांस अभियान के सफल संचालन हेतु जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक आयोजित हुई। जनपद में संचालित संचारी रोग अभियान, जिसके अन्तर्गत संक्रामक रोग एवं वेक्टर जनित रोगों के रोकथाम, बचाव एवं उपचार संबंधी गतिविधियों पर विस्तार से चर्चा हुई। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने बताया कि प्रदेश में कोरोना वायरस में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए कोविड-19 पर प्रभावी नियत्रंण के लिए एक विशेष सर्विलांस अभियान संचालित किया जा रहा है। इसके लिए माइक्रो प्लान के अनुसार जनपद में टीमों का गठन किया जायेगा। इन टीमों के द्वारा घर-घर जाकर संवेदीकरण करने के साथ-साथ कन्टेनमेंट जोन में आई0एल0आई एवं एस0ए0आर0आई0 एवं कन्टेनमेंट जोन में एस0ए0आर0आई0 के रोगियों का घर-घर जाकर गहन सर्वेक्षण किया जायेगा। सर्वेक्षण में आई0एल0आई0एवं एस0ए0आर0आई0 सहित अन्य गम्भीर रोगों से ग्रसित व्यक्तियों पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। प्रत्येक सर्वेक्षण टीम में दो सदस्य होंगे तथा टीम द्वारा प्रातः 8 बजे से अपरान्ह 2 बजे तक भ्रमण किया जायेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि व्यस्त चौराहों पर पुलिस के वाहनों तथा मजिस्ट्रेट के वाहनों से माइक्रोफोन द्वारा लोगों को भीड़ ना लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने हेतु सतर्क किया जाए, मास्क, सीट बेल्ट ना लगाने एवं सार्वजनिक स्थलों पर थूकने पर सख्ती से जुर्माना वसूलने की कार्यवाही की जाए इसके साथ ही जो लोग बाहर से आए हो, या बूढ़े हो तथा गर्भवती महिलाओं का अनिवार्य रूप से कोविड हेतु सैंपल भेजा जाए।
बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा बताया गया कि सर्वेक्षण टीम द्वारा इन्फ्रारेड थर्मामीटर एवं पल्स आक्सीमीटर का उपयोग किया जायेगा। सर्वेक्षण के पूर्ण होने पर प्रत्येक घर पर जागरूकता के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयार किया गया स्टीकर लगाया जायेगा। जिसका उद्देश्य रहेगा कि आई0एल0आई0 एवं एस0ए0आर0आई0 मरीजों को आइडेंटिफाई कर सकें ताकि उन्हें क्वारेंटाइन, आइसोलेशन या अन्य उपचार हेतु भेजा जा सके।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी प्रभुनाथ, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 आर.एम. श्रीवास्तव, सहित स्वास्थ्य विभाग, बेसिक शिक्षा विभाग, पंचायतराज विभाग तथा अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।