कभी भी आ सकता है 5 से 7 मई के बीच भयानक तूफान, जानें इसकी बड़ी वजह

नई दिल्ली: आने वाले 3 दिन किसी बड़े खतरे की शंका लिए हुए हैं। उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल और ओडिशा दूसरे राज्यों में भी आज आंधी तूफान आने का अलर्ट जारी किया गया है। गृह मंत्रालय के अधिकारी के मुताबिक, उत्तराखंड, असम और मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, उपरी हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, पंजाब और पश्चिम बंगाल में छिटपुट स्थानों पर आंधी तूफान और तेज आंधी आ सकती है।

 

जबकि, राजस्थान में छिटपुट स्थानों पर धूल भरी आंधी की आशंका जताई गई है। बता दें कि, पिछले 3 दिनों में आंधी से 124 लोगों की मौत हो चुकी है। और 300 से ज्यादा लोग घायल हो गए। जिसमें सबसे ज्यादा मौतें यूपी औ राजस्थान में हुई है।

 

क्यों आया तूफान?
मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक वेस्टर्न डिस्टर्बेंस जम्मू-कश्मीर पर बना था। दिल्ली में कम दबाव का क्षेत्र बना था। बंगाल की खाड़ी से आ रही हवाओं और वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के बीच टकराव हुआ। इसका नतीजा दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड में तूफान के रूप में देखने को मिला। हरियाणा के ऊपर बने चक्रवाती प्रवाह के चलते भीषण आंधी आई, जिसने राजस्थान और उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में भारी तबाही मचाई।

 

वहीं, इस घटना का संज्ञान लेते हुए मौसम विभाग ने शुक्रवार को चेतावनी जारी कर कहा है कि 5 से 7 मई के बीच कभी भी भयानक तूफान और तेज बारिश आ सकती है। साथ ही ग्रामीऩ स्तरों तक इसके बारे में आगाह करने के लिए भी काम शुरू कर दिया है।