मऊगंज थाना प्रभारी डी एस पी राजीव पाठक की बड़ी कर्यवाही

थाना प्रभारी डी एस पी राजीव पाठक की बड़ी कर्यवाही*


*खाद्य सुरक्षा अधिकारी रीवा एवं थाना प्रभारी मऊगंज डी एस पी राजीव पाठक की टीम द्वारा मिलावटी खाद्य पदार्थों को लेकर बड़ी कार्यवाही**
*होटल खोवा पनीर की दुकानों डेयरी पर छापेमारी खोवा पनीर व मिठाइयों के लिए सेम्पल**
*कार्यवाही से समूचे नगर में हड़कम्प दो चार के अलावा होटल व डेयरी दुकानों में ताला जड़कर भाग खड़े हुए दुकानदार**

मऊगंज- कई वर्षों बाद मऊगंज में एक बहुप्रतीक्षित कार्यवाही देखने को उस वक्त मिली जब कलेक्टर रीवा ओ पी श्रीवास्तव व एस पी रीवा आबिद खान के निर्देशन में खाद्य सुरक्षा अधिकारी अमित तिवारी एवं रश्मि शुक्ला खाद्य बिभाग एवं थाना प्रभारी डीएसपी राजीव पाठक पुलिस टीम एवं प्रभारी तहसीलदार मऊगंज अनुराग त्रिपाठी,व नायब तहसीलदार सुनील दत्त मिश्र के संयुक्त अभियान में मऊगंज के होटलों और पनीर खोवे की दुकानों छापामारी शुरू की गई। लेकिन जैसे ही आज सुबह तकरीबन 10 बजे इस अभियान की शुरुआत मिश्रा डेयरी मऊगंज इलाहाबाद बैंक के सामने से शुरु हुई तो कुछ ही क्षण में देखने को मिला कि इस कार्यवाही की भनक लगते ही सभी दुकानदारों में हड़कम्प मच गया और कुछ ही पल में मऊगंज नगर 95 फीसदी बस स्टैंड, बरहटा मोड़, हॉस्पिटल के सामने चाक मोड़ व अन्य जगहों की दुकानों के शटर बन्द करके दुकानदार भाग खड़े हुए। जिसके बाद सिंचाई बिभाग मऊगंज स्थित सांची डेयरी फार्म और राज रेस्टोरेंट में भी जांच के दौरान सेम्पल लिए गए हैं। वही आज की इस कार्यवाही में समिल्लित अधिकारियों की माने तो उनका कहना था कि उनका यह अभियान आगे भी इसी प्रकार से जारी रहेगा मिलावटी सामान बेचने बालो को किसी भी कीमत में नही बक्सा जाएगा।
आप को बता जिस वक्त से मऊगंज थाने का कार्यभार डी एस पी राजीव पाठक ने सम्हाला है उस वक्त से पुलिस अनुचित राजनैतिक राजनैतिक दबाव से मुक्त होकर मऊगंज पुलिस ने अपने अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत हर मोर्चे पर बड़ी जिम्मेदारी के साथ बखूबी दायित्व निभाया है। कई वर्षों से नगर में लगने बाले भयावह जाम से काफी हद तक निजात मिली है । तो वहीं अबैध कारोबार पर भी शिकंजा कसने का काम हुआ। इस दौरान देखा जाय तो चोरी की बारदातो में जरूर पूर्णतया रोकथाम नही नही लग सकी हाव् जिसकी मूल बजह पुलिस थाना में आपेक्षित बल की भारी कमी भी रही है। सीमित पुलिस बल के सहारे पूर्व से परिणाम बेहतर सामने हैं। इस दौरान कई चोरी लूट की बरदातों का खुलासा करने में पुलिस सफल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.