राम मंदिर पर केशव प्रसाद मौर्य ने खोला बड़ा राज,जनता का भरोसा खो सकती है PM मोदी की सरकार

Uttar Pradesh Deputy Chief Minister keshav prashad maurya ram mandir vivad

New Delhi: अयोध्या विवाद को लेकर उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने, रविवार को कहा कि उन्हें यकीन है कि, अगर जरूरत पड़ी और कोई रास्ता नहीं दिखा तो केंद्र सरकार अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए विधायिका लाएगी।

Uttar Pradesh Deputy Chief Minister keshav prashad maurya ram mandir vivad

उप मुख्यमंत्री का कहना है कि, केंद्र सरकार हर हाल में अयोध्या में राम मंदिर बनवाना चाहती है। हालांकि, ये तभी हो पाएगा जब संसद के दोनों सदन भी इसमें अपनी पूरी सहमती दें। बता दें कि, साल 2019 में लोकसभा चुनाव होने वाले है। ऐसे में अयोध्या का राम मंदिर विवाद एक बार फिर से सुर्खियों में आ रहा है। चुनावी पार्टियां राम मंदिर निर्माण का मुद्दा लेकर सियासी बयानों का हिस्सा बन रही है। केशव प्रसाद मौर्य ने पूरे दावे के साथ कहा है कि, अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए केंद्र सदन में कानून भी ला सकती है।

Uttar Pradesh Deputy Chief Minister keshav prashad maurya ram mandir vivad

लखनऊ में रविवार को मीडिया से बातचीत करते हुए केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि, देश की करोड़ों जनता चाहती है कि, अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण किया जाए। जो कि, उनके लिए आस्था से जुड़ा मामला है। वहीं, जब उनसे पूछा गया कि राज्यसभा में बहुमत हो जाएगा तो क्या बीजेपी विधेयक लाएगी? इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि, फिलहाल अभी ये मामला कोर्ट में पड़ा हुआ है। हालांकि, उन्हें पूरा यकीन है, कोर्ट का फैसला राम मंदिर के पक्ष में ही आएगा।

Uttar Pradesh Deputy Chief Minister keshav prashad maurya ram mandir vivad

उनका कहना है कि, अगर राम मंदिर का निर्माण होता है तो ये विश्व हिन्दू परिषद् के महान नेता अशोक सिंघल, महंत रामचंद्र दास परमहंस और अपनी जान देने वाले कारसेवकों के लिए एक सच्ची श्रद्धांजलि की तरह होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.