कल शाम 4 बजे होगी येदियुरप्पा की किस्मत का फैसला

बेंगलुरुः कर्नाटक को लेकर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है। जिसमें कोर्ट ने कहा है कि, बहुमत की गणना का परीक्षण शनिवार शाम 4 बजे सदन में किया जाएगा। हालांकि भाजपा की ओर से इसका विरोध करते हुए कुछ समय और मांगा गया, लेकिन कोर्ट ने इसके लिए इन्‍कार कर दिया। इस दौरान कोर्ट में उस याचिका पर दोबारा सुनवाई की गई, जिसमें कांग्रेस और जेडी-एस ने राज्यपाल वजुभाई वाला द्वारा येदियुरप्पा को सरकार बनाने का न्योता दिए जाने को चुनौती दी है।

 

वहीं, येदुरप्पा के वकील का कहना है कि, वो कल बहुमत परीक्षण के लिए तैयार नहीं है। इसके साथ ही भाजपा को सुप्रीम कोर्ट से एक और झटका मिला है। कोर्ट ने एंग्लो-इंडियन सदस्य की सदस्यता पर रोक लगा दी है।

 

इस दौरान कोर्ट में भाजपा के वकील मुकुल रोहतगी, कांग्रेस नेता पी.चिदंबरम, रामजेठमलानी, शांति भूषण कोर्ट में मौजूद हैं। इस बीच कांग्रेस और जेडीएस के विधायक बेंगलुरू से सीधे हैदराबाद पहुंच गए हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस नेता ने कहा, विश्व में किसी भी देश की न्यायिक व्यवस्था इतनी ज्यादा जागरूक नहीं है कि रात में दो बजे किसी मामले की सुनवाई करे। उनका कहना है कि, कर्नाटक में जो कुथ हुआ वह लोकतंत्र की हत्या होनी जैसी है।