जेसिका लाल हत्याकांडः 19 साल बाद मिली हत्यारे मनु को माफी, बहन ने कहा…

नई दिल्ली: दिल्ली का हाई-प्रोफाइल प्रोफाइल मॉडल जेसिका लाल हत्याकांड एक बार फिर सुर्खियों में है। बता दें कि, इस केस ने दिल्ली पुलिस के कई आला-अफसरों को अप्रैल 1999 में काफी उलझाया था।

 

वहीं अब जानकारी के मुकाबिक, हत्याकांड के दोषी सिद्धार्थ वशिष्ठ उर्फ मनु शर्मा को उनके अच्छे आचरण के बदले जेल प्रशासन ने इनाम दिया है। इनाम के तौर पर उन्हें अब खुली जेल में स्थानांतरित कर दिया गया है।

 

दरअसल, मनु शर्मा को तीन महीने पहले ही तथाकथित अर्द्ध खुली जेल में शिफ्ट किया गया था, इस दौरान वह सुबह आठ बजे जेल से बाहर निकलता और पूरे दिन एक एनजीओ में काम करने के बाद छ: बजे वापस तिहाड़ जेल में आ जाता था। उसके साथ जेल के पांच और कैदी भी इसी तरह का काम रहे थे।
जिसे देखते हुए तिहाड़ प्रशासन ने इन 6 कैदियों को सम्मानित किया है। बता दें कि, साल 2006 में दोष साबित होने के बाद से ही मनु शर्मा तिहाड़ जेल में अपनी सजा काट रहा था।

 

वहीं, तिहाड़ के ओपन जेल में शिफ्ट करने के फैसले पर तसिका की बहन सबरीना को भी कोई आपत्ति नहीं है। मॉडल जेसिका की हत्या में मनु शर्मा को आजीवन कारावास की सजा दी गई है।

 

जेसिका की बहन का कहना है कि मनु बीते वक्त में चैरिटी और कैदियों की मदद के लिए जेल में अच्छा काम कर रहा है और उन्हें लगता है कि ये बदलाव की तस्वीर है।