Cyclone: लक्षद्वीप समेत 5 राज्यों में चक्रवाती तूफान ‘सागर’ का खतरा, दिल्ली में भी दिखेगा असर

नई दिल्लीः आंधी-तूफान खराब मौसम के बीच मौसम विभाग ने फिर से एक बड़ी चेतावनी जारी की है। विभाग ने देश के कई तटीय राज्यों को चक्रवाती तूफान सागर को लेकर चेतावनी जारी की गई है। जारी निर्देश में कहा गया है कि, चक्रवाती तूफान यमन के अदन शहर से करीब 390 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में और सोकोत्रा द्वीप समूह से 560 किलोमीटर पश्चिमी-उत्तर पश्चिम में अदन की खाड़ी के ऊपर केंद्रित है।

 

जिसका असर राजधानी दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई हिस्सों में देखा जा सकता है। इससे पहले गुरुवार की शाम भी धूल भरी आंधी आई और बारिश हुई। जिसके कारण कई पेड़ उखड़ गए। साथ ही कई इलाकों में यातायात भी बाधित हुआ। आपको बता दें कि बीते 15 दिनों में भारत के कई राज्यो में आए भयंकर तूफान से जानमाल का भारी नुकसान हुआ है।

 

वहीं, मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान ‘सागर’ के संबंध में तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र और लक्षद्वीप को आज अलर्ट जारी किया है। चक्रवाती तूफान यमन के अदन शहर से करीब 390 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में और सोकोत्रा द्वीप समूह से 560 किलोमीटर पश्चिमी-उत्तर पश्चिम में अदन की खाड़ी के ऊपर केंद्रित है।

 

इसके साथ ही मौसम विभाग ने तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र और लक्षद्वीप में मछुआरों को समुद्र से लौटने की सलाह दी गई है। इसमें कहा गया है कि मछुआरे अगले 48 घंटों के दौरान अदन की खाड़ी और पश्चिमी मध्य और दक्षिण-पश्चिमी अरब सागर के आसपास के क्षेत्रों में न जाएं। 70 से 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रहीं तूफानी हवाएं 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पर पहुंच रही हैं। जो अगले 24 घंटों में इनकी चपेट में अदन की खाड़ी और पश्चिमी मध्य और दक्षिण पश्चिमी अरब सागर के आसपास के क्षेत्र आ सकते है। हालांकि, इसके बाद धीरे-धीरे यह कमजोर हो जाएगा।

 

बता दें कि, चक्रवात सिस्टम खुले जल क्षेत्र में बना है। शनिवार तक इसका असर बेहद क्षीण हो जाएगा।