‘मैं बच्चियों का रेप कर उन्हें तुरंत मार डालता था, जिंदा रह कर भी क्या करती’

Gurugram serial rapist

गुड़गांवः एरिया में एक के बाद एक 9 बच्चियों की रेप करने के बाद हुई हत्या के ममाले से देश एक बार फिर से शर्मसार हुआ है। बता दें कि, इस सभी बच्चियों का रेप कर उनकी हत्या को अंजाम एक ही शख्स ने दिया है। जो अब गुड़गांव पुलिस की गिरफ्त में है।

Gurgram-serial-rapist

आरोपी का नाम सुनील बताया जा रहा है। आरोपी ने गुरुवार देर शाम गुड़गांव के एक अन्य केस का खुलासा किया। पुलिस पूछताछ में उसने बताया कि, उसने आज तक सिर्फ एक ही बच्ची को रेप के बाद जिंदा छोड़ा था। जो कि, सिकंदरपुर के पास का मामला था। उस वारदात को अंजाम उसने 15 जून, 2013 को दी थी।

 

एसआईटी ने रात 8 बजे डीएलएफ फेज-1 थाना पुलिस से संपर्क कर केस की फाइल मांगाई है। इस केस में 2014 में अनट्रेस रिपोर्ट तैयार कर कोर्ट में फाइल जमा कराई जा चुकी है। पुलिस अब उस पांच साल की बच्ची के परिवार को तलाश करने में जुट गई है।

Gurgram-serial-rapist

 

बयां की अपने गुनाहों की कहानी

पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक, डीएलएफ इलाके में आयोजित भंडारे में गई 5 साल की बच्ची से रेप हुआ था। उस बच्ची को सिकंदरपुर मेट्रो स्टेशन के पास मेट्रो पिलर संख्या 47-48 के बीच लहूलुहान हालत में पाया गया था। जिसे इलाज के लिए सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालांकि, उसकी हालात को देख कर अंदाजा लगाया जा रहा था कि, आरोपी ने उसे मरा हुआ समझ कर ही फेंक दिया था। बता दें कि, 5 साल की बच्ची के साथ काफी बर्बरता की गई थी।

 

हालांकि, केस में कोई सुराग नहीं मिलने पर साल 2014 में अनट्रेस रिपोर्ट पुलिस ने कोर्ट में दायर कर दी थी। फरवरी 2018 में फोर्टिस हॉस्पिटल में उसकी 13वीं बार सर्जरी हुई। अब जाकर वह कुछ ठीक हो सकी है। पीड़ित बच्ची के पिता के मुताबिक, 27 अक्टूबर को डेंगू बुखार के चलते उसकी पत्नी की मौत हो गई थी। इसके चलते वो यूपी के बरेली में अपने गांव आ कर रहने लगा। फिलहाल उनकी बेटी चेन्नै में एक चचेरे भाई के पास रहती है। जो तीसरी कक्षा में पढ़ती है।

 

क्या-क्या किया खुलासा

भंडारे से गरीब परिवार की बच्चियों को उठाता था, हत्या से पहले बच्चियों से दो बार करता था रेप।

छोटी बच्चियों को बनाता था निशाना ताकि जिंदा बचने पर पैरेंट्स को न बता सकें कुछ भी।

झांसी, ग्वालियर और दिल्ली में दिया घटनाओं को अंजाम, 9 बच्चियों के रेप और मर्डर की बात कबूली।

20 साल का है आरोपी सुनील। 9 बच्चियों के साथ दिए वारदात में से 3 गुरुग्राम, 4 दिल्ली, 1 ग्वालियर और 1 झांसी की थी।

 

हैवानियत का कोई अफसोस नही

पुलिस का कहना है कि, घटना को अंजाम देने के बाद भी उसे कोई अफसोस नहीं है और वह आंख से आंख मिलाकर सभी सवालों के जवाब दे रहा है। पूछताछ के दौरान उसने पुलिसकर्मियों से बताया, ‘मैंने वह सब किया, जो मैं कर सकता था।’ उसकी बातों से उसके मन में उसके अपराधों काई डर नहीं।

ये भी पढ़ें

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें Facebook PageYouTube और Instagram पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.