72 घंटों में टूटा तोगड़िया का ‘अनिश्चितकालीन’ उपवास, कहा- मान ली साधु-संतों की बात

अहमदाबादः वीएचपी के पूर्व अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया राम मंदिर के निर्माण को लेकर मंगलवार को अनिश्चितकालीन अनशन बैठे थे जो अब टूट गया है। जिसका कारण है साधु-संत। दरअसल, तोगड़िया का कहना है कि, उन्होंने संतों की सलाह पर अपना उपवास खत्म किया है। बता दें कि, तोगड़िया राम मंदिर निर्माण को लेकर मंगलवार से अनिश्चितकालीन उपवास पर बैठे हुए थे।

 

हालांकि, उनका ये उपवास 72 घंटों से भी कम समय में टूट गया। उपवास तोड़ने के बाद तोगड़िया ने पीएम नरेंद्र मोदी समेत केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि वह हिंदुत्ववादी राजनीति के पुनरूद्धार के लिए राष्ट्रव्यापी दौरा करेंगे।

 

तोगड़िया ने डॉक्टरों की सलाह पर अपना उपवास खत्म करने का दावा किया है। कहा जा रहा है कि, इस उपवास में उनका अब तक 3 किलो वजन घट गया है।

 

बता दें कि, पिछले हफ्ते अपने नामित उम्मीदवार के संगठन चुनावों में हारने के बाद तोगड़िया ने विश्व हिंदू परिषद छोड़ दी थी। वहीं, अनशन के दौरान तोगड़िया ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा था कि, सीमाओं पर सैनिक सुरक्षित नहीं हैं। किसान खुदकुशी कर रहे हैं। हमारी बेटियां हमारे घरों में सुरक्षित नहीं हैं और प्रधानमंत्री विदेश घूम रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.