दिल्ली मेट्रोः यात्रीगण कृपया ध्यान दें! आज की सेवा में हो रही देरी के लिए हमें कोई खेद नहीं

नई दिल्लीः दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर दिल्ली मेट्रो कर्मचारियों की हड़ताल भले ही खत्म हो गई हो, लेकिन उनकी मांगों को लेकर उनका गुस्सा उनके काम में देखा जा रहा है। मिली जानकारी के मुताबिक, 30 जून को मेट्रो चल तो रही है लेकिन मेट्रो की सेवा में काफी बदलाव देखा गया है।

 

मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली मेट्रो के सभी रूटों की लाइनों की स्पीड काफी कम हो गई है। इशके अलावा मेट्रो एक स्टेशन पर बहुत देर के लिए भी रोकी जा रही है। हालांकि, इसके बारे में कोई अधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है कि, मेट्रो में ऐसी दिक्कतें क्यों आ रही है, लेकिन ये साफ तौर पर देखा जा रहा है कि, ये कर्माचारियों की हड़ताल के खिलाफ आए फैसले का ही नतीजा है।

 

 

बता दें कि, रोजाना करीब 25 लाख यात्री दिल्ली मेट्रो से अपना सफर तय करते है। अदालत ने दिल्ली मेट्रो प्रशासन की याचिका पर कर्मचारी परिषद महासचिव व अन्य को नेटिस जारी कर छह जुलाई तक जवाब मांगा है। गौरतलब है कि मेट्रो कर्मचारी अपनी अलग-अलग मांगों को लेकर हड़ताल पर जाने की बात कर रहे थे। वहीं दिल्ली सरकार ने मेट्रो कर्मचारी की मांगों का समर्थन किया है।

 

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि उनकी सरकार दिल्ली मेट्रो का सुचारू संचालन सुनिश्चित करने के लिए आवश्‍यक सेवा अनुरक्षण अधिनियम (एस्मा) लगा सकती है।

 

बता दें कि, पिछले कुछ दिनों में डीएमआरसी के करीब 9, 000 गैर-कार्यकारी कर्मचारी कई मेट्रों स्टेशनों पर अपनी कुछ मांगों को लेकर धरना दे चुके हैं। उनकी मांग थी कि, उनके वेतन में वृद्धि की जाए साथ ही उनके बकाए भुगतान को भी दिया जाए। इसके अलावा उनके लिए एक अलग से संघ बनाने की भी मांग की जा रही थी।

 

इससे पहले भी मेट्रो कर्मचारियों ने पिछले साल भी हड़ताल की चेतावनी दी थी लेकिन आपसी बातचीत में 23 जुलाई 2007 को समझौता करा दिया गया था।