प्रभारी मंत्री श्री सुरेश राणा माननीय राज्यमंत्री(स्वतंत्र प्रभार) गन्ना विकास एवं चीनी मिलें ने किया विकास कार्यो, कानून व्यवस्था व बाढ़ कार्यों की समीक्षा

प्रभारी मंत्री श्री सुरेश राणा माननीय राज्यमंत्री(स्वतंत्र प्रभार) गन्ना विकास एवं चीनी मिलें ने किया विकास कार्यो, कानून व्यवस्था व बाढ़ कार्यों की समीक्षा
जनपद बलरामपुर के प्रभारी मंत्री व राज्यमंत्री गन्ना विकास एवं चीनी मिलें मंत्री जनपद बलरामपुर के एक दिवसीय दौरों पर 18 एजेण्डा विन्दुओं पर अधिकारियेां के साथ बैठक की गई। स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा में डीपीआरओं ने बताया कि शतप्रतिशत विद्यालयों में शौचालय का निर्माण पूर्ण कर दिया गया है। माननीय मंत्री जी ने निर्देश दिया कि स्कूलों में शौचालय निर्माण की रैण्डम जांच जिला स्तरीय अधिकारियों से करवाएं। वृहद गोसंरक्षण केन्द्र की समीक्षा के दौरान मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ने बताया कि जिले के कुल 44 गोआश्रय स्थलों में 915 पशुओं को रखा गया है। माननीय मंत्री जी ने कहा कि गोआश्रय स्थलों में पानी की व्यवस्था हो, कोई भी पशु पानी व चारा के अभाव में मरना नहीं चाहिए। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण व प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी की समीक्षा में प्रभारी मंत्री ने संबन्धित अधिकारियों को योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करने का निर्देश दिया। पीओ डूडा को एक्सटेन्सन योजना की जानकारी व प्रचार प्रसार किये जाने का निर्देश दिया। काशीराम आवास योजना में मिल रही शिकायतों की जांच कराने का निर्देश दिया। आयुष्मान भारत योजना में 21.38 लाभार्थियों को कार्ड देने पर नाराजगी जताते हुये लक्ष्य के अनुरूप शतप्रतिशत कार्ड लाभार्थियों को देने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना व पेंशन योजना की समीक्षा में संबन्धित अधिकारियों को कैम्प लगाकर आवेदन पत्र प्राप्त किये जाने व योजना का प्रचार प्रसार किये जाने का निर्देश दिया। विद्युत आपूर्ति की समीक्षा के दौरान अप्रैल माह से जुलाई माह तक 597 ट्रान्सफार्मर खराब होने की जानकारी अधि0 अभि0 विद्युत द्वारा देने पर इसकी जांच किये जाने का निर्देश दिया, कहा कि पता करें कि इतनी भारी संख्या में ट्रान्सफार्मर क्यों खराब हो रहे है। अधि0 अभि0 विद्युत को 132 केवी0 के 02 विद्युत घरों के डिमाण्ड किये जाने का निर्देश दिया। प्रभारी मंत्री राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना व मुख्यमंत्री आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन की समीक्षा की व संबन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये। माननीय प्रभारी मंत्री ने जलसंचय से जुड़े अधिकारियों को निर्देश दिया कि समस्त सरकारी हैण्डपंपों पर सोख्ता बनाये जाने का निर्देश दिया, जिससे पानी पुनः भूमि के अन्दर जा सके। प्रभारी मंत्री जी ने कहा कि 14वें वित्त आयोग का पैसा अब जलसंचय के कार्यो पर खर्चा होगा। माननीय मंत्री जी द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, उर्वरकों की उपलब्धता, नई सड़कों का निर्माण व सड़कों के अनुरक्षण, शिक्षा व्यवस्था, निःशुल्क पाठ्यपुस्तक, यूनीफार्म, जूता मोजा की समीक्षा की गई। प्रभारी मंत्री ने समस्त अधिकारियों को निर्देश दिया कि समस्त विभागों द्वारा किये जा रहे कार्यों की जानकारी जनप्रतिनिधियों, विधायकगणों को अवश्य दें। सरकारी कार्यक्रमों, वितरण कार्यक्रमों, नई योजनाओं के शुभारंभ, शिलान्यास में जनप्रतिनिधियों को अवश्य आमांत्रित करें। प्रभारी मंत्री ने बाढ़ कार्यो की समीक्षा की। जिलाधिकारी ने बताया कि बाढ़ से निपटने के लिए 16 तटबन्ध बनाये गये है। डिपो पर नाव तैनात की गई है। नदी के किनारे वाले गांवों को चिन्हित कर बन्धा बनाया जा रहा है जनपद में एसडीआरएफ की एक टीम व तुलसीपुर में पीएससी की एक टीम तैनात की गई है। कानून व्यवस्था की समीक्षा की दौरान पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जनपद में व्यापक रूप से चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। महिला सुरक्षा हेतु 13 एन्टीरोमियों टीमें तैनात की गई है। आपरेशन सुरक्षा के तहत बैंकों, गल्र्स कालेजों, बड़ी दुकानों पर विशेष निगरानी रखी जा रही है। एन्टीरोमियों टीम द्वारा एक माह में 898 लफंगों को पकड़ा गया है। भूमि विवाद निस्तारण हेतु थाना दिवस पर विशेष अभियान चलाया जा रहा है। प्रत्येक थानो पर परिवार परामर्श केन्द्र चलाया जा रहा है।
प्रभारी मंत्री ने कहा कि जब हमारी सरकार आयी थी तो जनपद की स्थिति अत्यन्त दयनीय थी, माननीय मुख्यमंत्री जी के द्वारा कार्य करने संबन्धी दिये गये निर्देशों के बाद हम सबने मिलकर टीम के रूप में कार्य किया। प्रभारीमंत्री जी ने बताया कि प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के पश्चात् जनपद बलरामपुर में गर्भवती महिलाओं की प्रसव पूर्व देखभाल की स्थिति 33.41 से बढ़कर 76.17 प्रतिशत हो गई है। संस्थागत प्रसव 44.46 से बढ़कर 64.20 प्रतिशत हो गया है। टीकाकरण की स्थिति सरकार बनने से पूर्व 40 प्रतिशत थी जो कि बढ़कर अब 84 प्रतिशत हो गई है। टीवी मरीजो की पहचान सरकार बनने से पूर्व 50.87 प्रतिशत थी जो कि बढ़कर 52.62 प्रतिशत हो गई है। टीवी सफल उपचार दल सरकार बनने से पूर्व 67.83 प्रतिशत था जो कि बढ़कर शतप्रतिशत हो गया है। स्कूलों में शौचालय की सुविधा सरकार बनने से पूर्व 59 प्रतिशत थी जो कि बढ़कर 100 प्रतिशत हो गई है। पीने के पानी की सुविधा वाले स्कूल की संख्या सरकार बनने से पूर्व 63.24 प्रतिशत जो कि बढ़कर 100 ्रपतिशत हो गई है। आईटीआई शिक्षक छात्र अनुपात सरकार बनने से पूर्व 45.97 प्रतिशत थी जो कि बढ़कर 72.54 प्रतिशत हो गई है। सरकार बनने के बाद धान की खेती की पैदावार 2400 केजी प्रति हेक्टेयर से बढ़कर 38.64 केजी प्रति हेक्टेयर हो गई है। नीति आयोग की डेल्टा रैकिंग में जनपद को फरवरी मार्च में शिक्षा के क्षेत्र में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ। जिससे जनपद को 3 करोड़ प्रोत्साहन राशि नीति आयोग द्वारा दी गई। नीति आयोग द्वारा तीसरी पार्टी से जांच कराने के बाद जनपद की रैकिंग में 101 स्थान का सुधार आया है और जनपद का स्थान 18वां है जो कि भारत के 112 महत्वाकांक्षी जनपदों में से तीसरी सबसे तेज प्रगति है। किसान सम्मान निधि में 1,46,000 किसानों को उनके खातों में भुगतान किया गया है। गम्भीर कुपोषित बच्चों की संख्या 7.09 प्रतिशत से घटकर 4.56 प्रतिशत हो गई है। प्रभारी मंत्री जी द्वारा कलेक्ट्रेट परिसर में वृक्षारोपण किया गया।
बैठक में मा0 राज्यमंत्री श्री सुरेश राणा, जिलाधिकारी कृष्णा करुणेश, विधायक बलरामपुर सदर पल्टूराम, विधायक तुलसीपुर कैलाशनाथ शुक्ल, विधायक उतरौला राम प्रताप वर्मा, विधायक गैंसड़ी शैलेन्द्र सिंह शैलू, एसपी देवरंजन वर्मा, सीडीओ अमनदीप डुली, एडीएम अरुण कुमार शुक्ल, भाजपा जिलाध्यक्ष राकेश सिंह, समस्त एसडीएम, पीडी, डीडीओ व अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.