प्रथम प्रयास में ही शरद बने पीसीएस अधिकारी

अमेठी से अशोक श्रीवास्तव की रिपोर्ट

अमेठी निवासी शिक्षक दम्पत्ति राम चन्द्र सिंह व श्रीमती शशिबाला सिंह के छोटे सुपुत्र शरद सिंह का चयन पीसीएस बैच 2016 में नायब तहसीलदार के पद पर हो गया है। पीसीएस में इनके चयन से परिवार में  खुशी का माहौल है।
आपको बताते चलें कि शुरू से ही मेधावी व अनुशासित रहे शरद सिंह अपनी पढ़ाई में भी अव्वल रहे हैं और खास बात ये कि पीसीएस में चयन के लिये उन्होंने कभी कोई कोचिंग नहीं की। अपनी मेहनत और लगन से शरद ने ये मुकाम हासिल किया है।
बातचीत के दौरान शांत स्वभाव के शरद ने इस सफलता का विशेष श्रेय पूर्व प्राचार्य स्व. डॉ नागेश सिंह व बड़ों के आशीर्वाद को देते हैं।
गौरतलब है शरद सिंह के बड़े भाई लोकप्रिय डॉ सौरभ सिंह सीएचसी अमेठी व भाभी इंदुबाला सिंह संजय गांधी अस्पताल मुंशीगंज अमेठी में स्त्री रोग विशेषज्ञ के पद पर तैनात हैं। इतना ही नहीं, शरद के पिता राम चन्द्र सिंह का अपने कार्यकाल के दौरान 12 बार विभिन्न इंटर कालेजों में प्रधानाचार्य के पद पर भी चयन हुआ था लेकिन बच्चों की अच्छी शिक्षा को लेकर जागरूक श्री सिंह ने हर बार जगह परिवर्तन के कारण अपने चयन को नकार दिया और बच्चों को उचित मार्ग दर्शन देते रहे जिसका परिणाम सबके सामने आया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.