बिहार पीसीएस परीक्षा में ललितेन्दु ने मारी बाजी, बने वाणिज्यकर अधिकारी

राज कुमार जायसवाल की रिपोर्ट

अमेठी जनपद के निवासी डॉ सतीश राय व श्रीमती लीलावती राय के पुत्र ललितेन्दु राय ने बिहार पीसीएस में प्रशासनिक सेवा में वाणिज्य कर अधिकारी पद पर चयनित होकर न सिर्फ जिले का मान बढ़ाया है बल्कि यह संदेश दिया है कि साधारण परिवार व गांव में अभी भी होनहारों की कमी नहीं है।
मऊ जिले के साधारण परिवार में जन्में ललितेन्दु राय के पिता आर आर पी जी कॉलेज में एसोसिएट प्रोफेसर व माता शिक्षिका जूनियर हाईस्कूल की नौकरी करते हुए अपने बच्चों को अच्छी तालीम व संस्कार देते हुए जो सपने देखे थे, आज जब बेटे ने अपने पिता को उनके सपने को सच करने का संदेश सुनाया तो पिता व परिजन फूले नहीं समाये। मजबूत इच्छा शक्ति की बदौलत ललितेन्दु ने जो सोचा उसे पूरा किया और कदम बढ़ाया तो रूकने का नाम नहीं लिया। बिहार पीसीएस में चयन होने के बाद वह बहुत खुश हैं लेकिन उनका कहना है कि अभी मंजिल और भी है।
ललितेन्दु ने हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा प्रथम श्रेणी से श्री शिवप्रताप इंटर कालेज अमेठी एवं बी एन एस डी इंटर कालेज कानपुर से पास किया है। स्नातक (B.Tec.)की पढ़ाई उन्होंने अन्नामलाई विश्वविद्यालय तमिलनाडू से पूरी की। सिविल सर्विसेज की परीक्षा की तैयारी के लिए उन्होंने भूगोल विषय में अपनी तैयारी पूरी की। उन्होंने अपने कठिन परिश्रम से सिद्ध कर दिया की लक्ष्य और जुनून हो तो पुरुषार्थ की बदौलत हर सपने को सच किया जा सकता है। जंग तादात से नहीं हौसले से जीती थी।अपने आदर्श वाक्य से अपने पुत्र को प्रेरित करने वाले पिता डॉ सतीश राय अभी जून में एसोसिएट प्रोफेसर आर आर पी जी कॉलेज अमेठी एवं माता श्रीमती लीलावती राय प्राध्यापिका जूनियर हाईस्कूल अमेठी से सेवानिवृत्त हुए हैं। बड़े भाई श्री शरदेन्दु राय एच् ए एल स्कूल कोरवा अमेठी में वाणिज्य प्रवक्ता एवं भाभी स्नेहा राय शिक्षिका प्राथमिक विद्यालय कनकापुर भेटुआ अमेठी में कार्यरत हैं।
भावी परिक्षार्थियों को ललितेन्दु ने संदेश दिया की आत्म विश्वास व कठिन परिश्रम धैर्य व सम्यक लक्ष्य के चार पहियों पर ही सफलता की गाड़ी चलती है। इन्होंने बिहार पीसीएस में पहली बार में ही सफलता पायी है।
बिहार पीसीएस में वाणिज्य कर अधिकारी पद पर चयन होने पर परिजन सहित गांव व रिश्तेदार शुभचिंतक दोस्त मित्र सभी गदगद हैं लोगों का कहना है कि ललितेन्दु राय ने उनका मान और सम्मान दोनों बढ़ाया है उनकी सफलता पर चाचा डॉ संजय राय एसोसिएट प्रोफेसर मठलार पी जी कॉलेज देवरिया, ने एवं मित्रों ने उन्हें बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.