मॉडल प्राथमिक विद्यालय कोटवा के प्रधानाध्यापक की नयी पहल

अमेठी से अशोक श्रीवास्तव के साथ राज कुमार जायसवाल की रिपोर्ट

कौन कहता है कि आसमाँ में सुराख हो नहीं सकता , एक पत्थर तो तवियत से उछालो यारों।
किसी कवि की उक्त पंक्तियां विकास क्षेत्र संग्रामपुर में स्थित प्राथमिक विद्यालय कोटवा के प्रधानाध्यापक श्री अनिल कुमार मिश्र पर सटीक बैठती हैं। गत वर्ष जब प्राथमिक विद्यालय कोटवा अंग्रेजी माध्यम से संचालित होने के लिए चयनित हुआ तब इस विद्यालय में श्री अनिल कुमार मिश्र की नियुक्ति प्रधानाध्यापक पद पर हुई। तत्कालीन परिस्थितियां विषम थी और साथ ही नामांकन एवं ठहराव की समस्या बनी रहती थी किन्तु प्रधानाध्यापक के अथक परिश्रम एवं नित नवीन नवाचारी गतिविधियों के चलते स्थितियों में गुणात्मक सुधार हुआ। वर्तमान में विद्यालय में 150 छात्र-छात्राएं अध्यनरत हैं जबकि गत वर्ष ये संख्या 81 थी। विद्यालय में प्राकृतिक वातावरण होने के साथ-साथ साफ-सफाई का बहुत अधिक ध्यान दिया जाता है। अमेठी जनपद या यूं कहें कि ये प्रदेश का पहला ऐसा परिषदीय प्राथमिक विद्यालय है जहां पर माह में 2 बार नाई बच्चों के बाल काटने भी आते हैं। प्रधानाध्यापक ने बताया कि इस समय विद्यालय में दो सहायक अध्यापक श्री हनुमान शरण यादव और श्री अम्बरीष जायसवाल कार्यरत हैं , जिनके सहयोग से विद्यालय निरंतर प्रगति के पथ पर अग्रसर है। विकास क्षेत्र के खंड शिक्षा अधिकारी श्री दिनेश चंद्र जोशी ने ने प्राध्यानध्यापक की तारीफ करते हुए कहा कि प्राथमिक विद्यालय कोटवा वर्तमान में संग्रामपुर के अग्रणी विद्यालयों में से एक है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.