हाई प्रोफाइल सुरेंद्र सिंह हत्याकांड का मुख्य आरोपी वसीम गिरफ्तार

अमेठी से अशोक श्रीवास्तव के साथ राज कुमार जायसवाल की रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश के अमेठी के जामो थाना इलाके के बरौलिया गांव में पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह की 25 मई की रात गोली मारकर हत्या कर दी गईथी सुरेंद्र अपने घर के बाहर सो रहे थे, तभी उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग की गई। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए। सुरेंद्र को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां से उन्हें ट्रामा ले जाया गया। लेकिन रास्ते में उनकी मौत हो गई थी। सुरेंद्र अमेठी सांसद स्मृति ईरानी के करीबी थे। स्मृति ने सुरेंद्र की अर्थी को कंधा दिया था उसके बाद से ये हत्या हाईप्रोफाइल हत्याकांड बन गया था।

इस मामले में नामजद 5 आरोपियों में से 3 हत्या के दूसरे दिन और 1 आरोपी गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया गया था। पांचवां आरोपी वसीम पुलिस से हल्की मुठभेड़ में घायल होने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है जिसका इलाज सीएचसी जामों में चल रहा है।

एएसपी दया राम ने बताया कि पुलिस मुठभेड़ में घायल वसीम जामो सीएचसी में भर्ती है। जहां सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है और किसी भी व्यक्ति को उससे मिलने की अनुमति नहीं है। गुरुवार को अभियुक्त गोलू को गिरफ्तार किया गया था। पीड़ित परिवार ने वसीम, नसीम, गोलू, धर्मनाथ और बीडीसी रामचंद्र के खिलाफ सुरेन्द्र सिंह की हत्या के मामले में धारा 302 और 120-बी के तहत मुकदमा दर्ज कराया था। अब सभी आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

सुरेंद्र को साथ लेकर स्मृति करती थीं प्रचार

बरौलिया गांव, गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का गोद लिया गांव था। स्मृति ने प्रचार के दौरान इसी गांव में जूते बांटे थे। लोकसभा चुनाव में सुरेंद्र ने स्मृति के चुनाव प्रचार में अहम रोल निभाया था। वे ज्यादातर जगहों पर सुरेंद्र के साथ ही प्रचार करने जाती थीं। उनकी कई मौके पर स्मृति के साथ फोटो भी है। सुरेंद्र का प्रभाव कई गांवों में था। जिसका फायदा स्मृति को चुनाव प्रचार में मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published.