पड़ोसी मुल्क के बैंक में आज भी सड़ रहे भारत के 500-1000 के करोड़ों नोट!

नवंबर 2016 में भारत में की गई नोटबंदी की मार आज भी पड़ोसी मुल्क नेपाल में देखी जा रही है। जानाकारी के मुताबिक, आज भी नेपाल के केंद्रीय बैंक में करीब आठ करोड़ रुपए के पुराने भारतीय नोट भरे पड़े हैं। जिनमें 500 और 1000 के नोट शामिल है।

 

बता दें कि, नोटबंदी के दौरान जितनी दिक्कत भारत में लोगों को हुई थी उससे भी बदतर हालात नेपाल में देखे गए थे। वहीं, भारतीयों को जहां पुराने नोट बदलने का सरकार ने कई बार की अवधि दी वहीं नेपाल के लोगों को इससे जुड़े कोई मदद नहीं मिली।

 

खबरों की माने तो नेपाल में कई होटल के मालिकों ने नेपाल के पीएम ओली से आग्रह किया है कि वह नोटबंदी के बाद 500 और 2000 के भारतीय नोटों के सम्बन्ध में पीएम मोदी से जल्द ही कोई समझौता करें।

 

वहां के होटल मालिकों का कहना है कि इस तरह के भारतीय मुद्रा नोटों के लिए विनिमय सुविधा के कारण नेपाल में भारतीय पर्यटकों की संख्या में लगातार कमी आ रही है। धीरे-धीरे भारतीय मुद्रा के प्रति के उनका विश्वास भी कम हो रहा है।

 

वहीं ऐसा माना भी जा रहा है प्रधानमंत्री मोदी के इस नेपाल दौरे के दौरान इस मुद्दे को भी उठाया जाएगा, ताकि, इस समस्या का समाधान भी किया जा सके।

 

हालांकि, इन्हें बदलने के लिए भारत की तरफ से नेपाल के सामेन दो शर्त रखी जाएंगी। पहली शर्त- नेपाल को इस बात की गारंटी देनी होगी कि जो भी व्यक्ति नोट बदले उसकी पूरी पहचान बतानी होगी।

 

दूसरी शर्त- एक निश्चित सीमा के बाद नोट बदलने के लिए उक्त व्यक्ति को अपनी आय के स्त्रोत का खुलासा भी करना होगा।