अमेरिकी राष्ट्रपति ने किया कोरोना की दवा बनाने का दावा ट्वीट कर दी जानकारी

थिंक मीडिया न्यूज़ (संतोष तिवारी)

डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया है कि अमेरिका कोरोना की दवा बनाने में सफल रहा है…

चीन से शुरू हुए कोरोना वायरस के दुनियाभर में बढ़ते संक्रमण के बीच कई देशों में कोरोना के वैक्सीन और दवा को लेकर रिसर्च जारी है। हालांकि अबतक इसका पुख्ता इलाज सामने नहीं आया है, लेकिन कई सारे शोधों के सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। इन सबके बीच कोरोना की दवा को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने बड़ा दावा किया है। 

डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया है कि अमेरिका कोरोना की दवा बनाने में सफल रहा है। राष्ट्रपति ट्रंप ने आज से न्यूयॉर्क और अन्य स्थानों पर इस दवा के इस्तेमाल होने का जिक्र करते हुए ट्वीट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि एक महान प्रारंभिक परिणाम! एक दवा न्यूयॉर्क और अन्य स्थानों में कल से शुरू हो जाएगा # COVID-19

ट्वीट में न्यूयॉर्क पोस्ट के हवाले से कहा गया है कि फ्लोरिडा के एक व्यक्ति ने इस दवा से ठीक होने का दावा भी किया है। 

A great early result from a drug that will start tomorrow in New York and other places!

गौरतलब है कि ट्रंप ने 21 जनवरी को अपने एक ट्वीट में कहा था कि- हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन और एज़िथ्रोमाइसिन का कॉम्बिनेशन मेडिसिन की दुनिया में बड़ा गेम चेंजर साबित हो सकता है। एफडीए ने ये बड़ा काम कर दिखाया है… थैंक्यू… इन दोनों एजेंट को तत्काल प्रभाव से इस्तेमाल में लाना चाहिए, लोगों की जान जा रही है।

HYDROXYCHLOROQUINE & AZITHROMYCIN, taken together, have a real chance to be one of the biggest game changers in the history of medicine. The FDA has moved mountains – Thank You! Hopefully they will BOTH (H works better with A, International Journal of Antimicrobial Agents).

जाहिर है कि कोरोना वायरस के प्रकोप से पूरी दुनिया त्रस्त है। विश्व के करीब 190 देश कोरोना से संक्रमित हैं। 35 से ज्यादा देशों ने जनता की जान बचाने के लिए पूरे देश को लॉकडाउन कर रखा है। इटली, स्पेन, फ्रांस और श्रीलंका के अलावा कई अमेरिकी राज्यों में पूरी तरह से लॉकडाउन है। कोरोना के जहर से 16000 लोग काल के गाल में समा चुके हैं। वहीं 3 लाख 60 हजार से ज्यादा कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। अकेले इटली में कोरोना से 6077 लोगों की मौत हो चुकी है। दुनिया की महाशक्ति अमेरिका में भी कोरोना ने कोहराम मचा रखा है। वहां 419 से ज्यादा लोग मौत के मुंह में समा चुके हैं।