जावा सागर में मिला इंडोनेशियाई प्लेन का मलवा,सभी यात्रियों के मौत की आशंका

सोमवार सुबह इंडोनेशिया के जकार्ता में 189 यात्रियों को लेकर उड़ान भरने वाला विमान जावा सागर में दुर्घटनाग्रस्त पाया गया है। इस प्लेन क्रैश में सभी 189 यात्रियों के साथ प्लेन के सभी क्रू मेंबर्स भी हादसे के शिकार माने जा रहे हैं।

indonesian lion air plane

सुबह से जारी सर्च और रेस्क्यू अभियान के बाद रेस्क्यू टीम को क्रैश होने वाली जगह पर समुद्र में कुछ अवशेष मिले। प्लेन क्रैश की वजह क्या थी फिलहाल इसकी जांच की जा रही है।

13 मिनट बाद ही हुआ क्रैश

ये विमान लॉयन एयर का था। बताया जा रहा है कि, विमान उड़ान भरने के 13 मिनट बाद ही यह क्रैश हो गया। रॉयटर्स के मुताबिक, इस प्लेन में क्रू समेत कुल 189 लोग सवार थे। इनमें 3 बच्चे, 2 पायलट और 5 केबिन क्रू सवार शामिल हैं। जानकारी के मुताबिक, गोताखोर समेत 250 बचावकर्ता जावा सागर में यात्रियों की खोज कर रहें है।

indonesian lion air plane

नए मॉडल से तैयार किया गया था प्लेन, सिर्फ 2 महीनें ही भर पाया उड़ान

लॉयन एयर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एडवर्ड सिरैत ने कहा कि, सोमवार को उड़ान भरने से पहले रविवार की रात उसी विमान में कुछ तकनीकी दिक्कतों को लेकर मुद्दा बनाया गया था, लेकिन सोमवार को प्लेन को उड़ान भरने के लिए मंजूरी दे दी गई थी। उन्होंने कहा कि, यात्रियों के साथ उड़ान भरने से पहले प्लेन के पायलट ने प्रक्रिया के अनुसार सभी पूर्व-उड़ान निरीक्षण किए थे।

आपको ये भी रोचक लगेगा

अभी तक नहीं पता चला दुर्घटना का कारण

जकार्ता में लॉयन एयर के मुख्यालय में संवाददाताओं से बात करते हुए सिरैते ने कहा कि पायलटों की मंजूरी के बाद ही प्लेन को उड़ाने की मंजूरी दी गई थी। इंडोनेशियाई अधिकारियों के मुताबिक, लॉयन एयर फ्लाइट ने पांगकल पिनांग से सोमवार की सुबह उड़ान भरी थी। लेकिन कुछ ही मिनट बाद ही स्थानीय हवाई यातायात नियंत्रण से संपर्क खो गया था। विमान ने सुबह 6.20 बजे उड़ान भरी थी, इसे 7.20 पर लैंड करना था।

हालांकि, 6.33 पर ही प्लेन क्रैश हो गया। विमान ने जकार्ता से पन्गकाल पिनांग (Pangkal Pinang) के लिए उड़ान भरी थी। विमान का संपर्क टूटने के थोड़ी ही देर में इसकी पुष्टि कर दी गई कि, 19 यात्रियों के साथ उड़ान भरने वाला प्लेन क्रैश हो गया है। जिसके थोड़ी देर बाद उत्तरी जकार्ता में तंजंग प्रियक बंदरगाह की रिपोर्ट से पता चला कि विमान के मलबे पाए गए हैं।

आपको ये भी रोचक लगेगा

खोज और बचाव एजेंसी के प्रमुख मुहम्मद स्युगी ने, संवाददाताओं से कहा है कि, “हम अभी तक नहीं जानते कि क्या कोई जीवित है या नहीं।” “हम आशा करते हैं, हम प्रार्थना करते हैं, लेकिन हम पुष्टि नहीं कर सकते हैं।”

विमान शुरू में गायब हो गया था

इंडोनेशिया के वायु नेविगेशन प्रवक्ता योहनस सिराइट ने कहा कि, Boeing-737 Max 8 aircraft के पायलट ने प्लैन को वापस लैंड कराने की बात कही थी। जिसके लिए यातायात नियंत्रण ने इसे अनुमति भी देदी थी। हालांकि, विमान के इंडोनेशिया शहर से निकलने के 13 मिनट बाद ही विमान लापता हो गया था।

ये भी पढ़ेंः

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें Facebook PageYouTube और Instagram पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.