दिल्ली के भव्य सुनेजा उड़ा रहे थे इंडोनेशियाई प्लेन,आना चाहते थे वापस

सोमवार सुबह इंडोनेशिया के लिए किसी काले दिन की तरह शुरू हुई। यहां जकार्ता में उड़ान भरने के कुछ मिनटों बाद ही एक प्लेन क्रैश हुआ। जिसका मलबा जावा सागर में मिला है। इस प्लेन को दिल्ली के भव्य सुनेजा उड़ा रहे थे।

indonesia plane crash bhavye suneja

2011 में की थी ज्वॉइन

बता दें कि, क्रैश लॉयन एयर बोइंग 737 विमान 189 यात्रियों को लेकर जकार्ता से पंगकल पिनांग जा रहा था। इंडोनेशिया की सर्च और रेस्क्यू एजेंसी की जानकारी के मुताबिक, उड़ान भरने के 13 मिनट बाद ही प्लेक का संपर्क टूट गया था। वहीं, विमान के पायलट सुनेजा ने साल 2011 में इस एयलाइंस में नौकरी शुरू की थी।

indonesia plane crash bhavye suneja

वापस भारत आना चाहते थे भव्य सुनेजा
  • दिल्ली के मयूर विहार से थे
  • भव्य सुनेजा दिल्ली के मयूर विहार के रहने वाले थे।
  • सुनेजा ने स्थानीय एल्कॉन पब्लिक स्कूल से पढ़ाई की थी।
  • मार्च 2011 में उन्होंने इंडोनेशिया की लॉयन एयर में नौकरी शुरू कर।
  • वहां वो बोईंग 737 उड़ाते थे।
  • सुनेजा के सोशल मीडिया प्रोफाइल के मुताबिक, उन्हें साल 2009 में बेल एयर इंटरनेशनल से पायलट का लाइसेंस का मिला था।
  • साल 2010 में उन्होंने ट्रेनी पायलट के रूप में एमिरेट्स कंपनी में नौकरी ज्वॉइन की थी।
  • कंपनी की जानकारी के मुताबिक, भव्य को लगभग 8 सालों का अनुभव था। उन्होंने 6 हजार से भी अधिक घंटे की उड़ान भरी थी।
  • वहीं, भारत में बोईंग 737 का संचालन करने वाली एक एयरलाइन कंपनी के वाइस प्रेसीडेंट की माने तो 31 साल के सुनेजा भारत लौटना चाहते थे। जिसके बारे में कई बार अपनी कंपनी से भी बात कर चुके थे।
  • एक वरिष्ठ अधिकारी की माने तो, सुनेजा एक मृदुभाषी इंसान थे।
  • साथ ही वे बोईंग 737 के एक अनुभवी पायलट भी थे।

वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि, ‘अधिकतर पायलट उत्तर भारत से हैं और वो दिल्ली में तैनाती चाहते हैं। जिस पर उन्होंने सभी से वादा भी किया है कि, एक साल उनके साथ काम करने के बाद वो सभी की पोस्टिंग दिल्ली में ही करने पर विचार करेंगे।

बता दें कि, ये क्रैश इंडोनेशिया का सबसे बड़ा विमान हादसा हो सकता है। इससे पहले दिसंबर 2014 में एयर एशिया फ्लाइट क्यूजेड 8501 क्रैश हुआ था। जिसमें 162 लोगों की जान चली गई थी। हादसे का शिकार हुआ विमान बोइंग 737 मैक्स-8 था। इसमें एक बार में 210 यात्री सफर कर सकते हैं।

2013 में भी हुआ था क्रैश

लॉयन एयर इंडोनेशिया काफी किफायती हवाई सेवा मानी जाती है। इस घटना से पहले साल 2013 में भी लॉयन एयर की फ्लाइट बाली के एंगुराह राय इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर लैंड होने से पहले समुद्र में क्रैश हुई थी। जिसमें सवार सभी 108 यात्री जिंदा बच गए थे।

ये भी पढ़ेंः

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें Facebook PageYouTube और Instagram पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.