दूल्हे को बग्गी से उतारकर ले गई दिल्ली वाली गर्लफ्रैंड दुल्हन करती रही इंतजार


संतोष तिवारी

बारात लेकर दुल्हन लेने जा रहे एक युवक को रास्ते में उसकी दिल्ली वाली गर्लफ्रैंड ने रोक लिया। बग्गी पर चढ़कर उसने दूल्हे को यह एहसास कराया कि वह उसकी पहली पत्नी है और तमाशे से बचना हो तो सीधे उसके साथ चले। दूल्हा अपनी पगड़ी आदि बग्गी पर छोड़कर कार में पुरानी पत्नी (दिल्ली वाली गर्लफ्रैंड) के साथ चला गया और बारात देखते रह गए। इस घटना की इलाके में व्यापक चर्चा है।

मामला उझानी इलाके का है। यहां रहने वाला एक युवक दिल्ली में रहकर नौकरी करता था। वहां उसकी मुलाकात वहां एक युवती से हुयी और दोनों ने वहीं पर शादी कर ली। इधर, युवक ने अपने परिजनों से यह बात छिपाये रखी। नतीजतन परिवार वालों ने उसकी शादी कछला रोड निवासी एक युवती के साथ तय कर दी। युवक लगभग 10 दिन पहले यहां पहुंचा तो परिजनों ने उसे बताया कि शादी तय हो चुकी है और बैंडबाजा भी बुक है।

कलह न हो, इसलिए वह मामले को दबाये रहा। नतीजतन बीते रोज शादी की रस्में पूरी होने के साथ ही बारात भी जाने लगी। इसकी भनक दिल्ली वाली पत्नी को लगी तो वह कार से यहां पहुंची तो बारात उझानी के पुराने टाकीज के पास थी और बाराती नाचने-गाने में मशगूल थे। पहली पत्नी ने बग्गी पर चढ़कर पांच सौ रुपये का नोट दूल्हे के सिर पर लगाकर फोटो खिंचवाये तो लोग दंग रह गये कि आखिरकार वह कौन है। जबकि इसके बाद उसने दूल्हे को हड़काया तो दूल्हा कार में बैठकर उसके साथ चला गया। बारात भी रास्ते से ही वापस लौट गई। हालांकि किसी पक्ष ने इस मामले में पुलिस को तहरीर नहीं दी है।