ऋषि कपूर को ये फ़िल्म नहीं करने का था पछतावा प्रोड्यूसर केसी बोकाड़िया ने सुनाया किस्सा

मायानगरी मुंबई

ऋषि कपूर ने 30 अप्रैल को दुनिया को अलविदा कह दिया

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर ने दुनिया को अलविदा कह दिया। दो सालों तक ल्यूकेमिया से जंग लड़ने के बाद उन्होंने 30 अप्रैल को अंतिम सांस ली। उन्होंने बॉलीवुड की कई हिट फिल्मों में काम किया है, जिसमें ‘नसीब अपना अपना’ भी शामिल है। इसके निर्माता केसी बोकाडिया ने अभिनेता को श्रद्धांजलि देते हुए फिल्म से जुड़ी यादों के बारे में बताया।

केसी बोकाडिया ने कहा, ‘ऋषि कपूर साहब के निधन का सदमा मुझे ही नहीं, बल्कि पूरे हिंदुस्तान को लगा है। मुझे समझ ही नहीं आया कि ये क्या हो गया है। पहले इरफान खान और फिर ऋषि कपूर..। मेरा और ऋषि जी का बहुत अच्छा संबंध था। वो बहुत ही प्यारे थे। कोई भी उनके साथ एक बार काम कर ले तो उनके करीब हो जाता था।’

ऋषि कपूर ने केसी बोकाडिया संग दो फिल्मों में काम किया है। निर्माता ने कहा, ‘हम दोनों ने दो फिल्मों में काम किया। पहला ‘नसीब अपना अपना’, जो सुपरहिट हुई। फिर ‘मोहबब्त की आरजू’ फिल्म की, ये भी लोगों को पसंद आई। ये बात सच है कि हमने उन्हें ‘प्यार झुकता नहीं’ के लिए अप्रोच किया था, किसी कारणवश वो फिल्म नहीं कर पाए। फिर हमने मिथुन चक्रवर्ती के साथ मूवी बनाई, जो हिट हो गई। इसके बाद ऋषि को पछतावा हुआ और उसने आकर कहा भी कि इस लिस्ट में मेरा नाम होना चाहिए थे।’ 

निर्माता निर्देशक केसी बोकाडिया ने आगे कहा, ‘ऋषि कपूर ने ‘नसीब अपना अपना’ की स्क्रिप्ट भी नहीं सुनी थी। उन्होंने कहा था कि बस फिल्म शुरू करो। 30 दिन में मद्रास शूटिंग की। हमारा प्यार और रिलेशन बरकरार रहा। वो मेरे बेटे राजेश बुकाडिया के साथ काम करने वाले थे, लेकिन अचानक उनकी तबीयत खराब हो गई। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे, मैं और मेरा पूरा परिवार उन्हें हाथ जोड़कर नमन करता है।