शारदीय नवरात्रि 2018ः सुबह नहीं कर पाएं तो दोपहर के इस शुभ मुहूर्त में करें घट स्थापन

इस बार चित्रा नक्षत्र में शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri) 10 अक्टूबर से शुरू हो चुका है। आज के दिन से भक्तों के घरों में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा अर्चना  शुरू हो जाएगी। जो 18 अक्टूबर तक होती रहेगी। पूजन में पूजा सामग्रियों से लेकर घट स्थापन और नौ रूपों के पूजन का भी विशेष ख्याल रखा जाता है।

Shardiya Navratri

कई लोग नवरात्रि (Navratri 2018) के पहले दिन पंडितों को घर में बुलाकर कलश की स्थापना करवाते हैं, हालांकि, आप खुद ही घट स्थापन कर सकते हैं। पहली बार घट स्थापना के लिए काफी कम समय मिल रहा है।

अगर आज प्रतिपदा के दिन ही घट स्थापना करनी है तो आपको केवल एक घंटा दो मिनट मिलेंगे। सवेरे जल्दी उठना होगा और तैयारी करनी होगी। पिछले नवरात्र पर घट स्थापना के लिए मुहूर्त काफी थे, लेकिन कम समय के लिए प्रतिपदा होने से इस बार घट स्थापना के लिए कम समय है।

Shardiya Navratri

आवश्यक सामग्री

लाल रंग का आसन, मिट्टी पात्र, अशोका या आम के 5 पत्ते, नारियल, चुनरी, सिंदूर, फल-फूल, माता का श्रृंगार, जौ, कलश के नीचे रखने के लिए मिट्टी, कलश, मौली, लौंग, इलायची, कपूर, रोली, साबुत सुपारी, चावल और फूलों की माला।

कपूर के इन 11 शास्त्रीय उपायों से लाएं भाग्य और जीवन में सुधार
इस विधि से करें कलश स्थापना

  • पहले दिन खुद नहाकर मंदिर की सफाई करें और हर शुभ काम की तरह सबसे पहले गणेश जी का विचरण करें।
  • मां दुर्गा के नाम की अखंड ज्योत जलाएं।
  • मिट्टी के पात्र में मिट्टी डालें उसमें जौ के बीज डालें।
  • एक तांबे के लोटे (कलश) पर मौली बांधें और उस पर स्वास्तिक बनाएं।
  • कलश पर कुछ बूंद गंगाजल डालें।
  • अब उसमें दूब, साबुत सुपारी, अक्षत और सवा रुपया डालें।
  • कलश के ऊपर आम के पत्ते लगाएं और नारियल को लाल चुनरी में लपेटें।
  • अब जौ वाले मिट्टी के पात्र के बीचो बीच में रख दें।

शुभ मुहूर्त

कलश स्पापन के लिए आपको 10 अक्टूबर की सुबह 6.25 मिनट से 7.26 तक करना होगा। अगर इस समय में कलश की स्थापना नहीं कर सकते हैं तो दोपहर 11.51 से 12.29 तक के बीच में भी कलश स्थापित कर सकते हैं।

क्यों जरूरी है 

मान्यता है कि कलश स्थापना से मां दुर्गा का आह्वान किया जाता है। इससे देवी मां घरों में विराजमान रहकर अपनी कृपा बरसाती हैं कलश स्थापना को घट स्थापना भी कहा जाता है।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें Facebook PageYouTube और Instagram पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.